ComputerTUTORIALS

OPERATING SYSTEM IN HINDI (ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है)

operating system in hindi

आज का हमारा topic है – operating system in hindi (ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है )

operating system in hindi के इस topic में हम लोग जानेगे की operating system क्या होता है, इसकी क्या आवश्यकता होती है, operating system कितने प्रकार के होते हैं, operating system चलाने के क्या फायदे हैं, प्रमुख operating system कौन-कौन से हैं और operating system का क्या इतिहास है |

तो चलिए शुरू करते हैं |

Operating system kya hai (ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है)

दोस्तों operating system हमारे computer का एक मुख्य software होता है जो हमारे computer में hardware devices को software से जोड़ने का काम करता है |

हमारा कंप्यूटर दो चीजों से मिलकर ही अपना काम कर पाता है, hardware और software | लेकिन दोस्तों हम जो भी software अपने computer में चलाते हैं उस computer software के पीछे एक hardware काम कर रहा होता है |

आप में से ज्यादातर लोग computer का इस्तेमाल करते होंगे और window का नाम तो सुना ही होगा | कोई अपने computer में window 7 डालता है, कोई window 8 डालता है और कोई windows 10 डालता है | ये सब एक operating system हैं |

इन्हें भी पढ़ें :

हम किसी भी software को अपने computer में direct इतनी आसानी से install नहीं कर सकते हैं, हर software को install करने के लिए किसी न किसी operating system की जरूरत पड़ती है |

operating system को हमारे computer में सबसे पहले install किया जाता है इसके बाद ही हम अपने computer में कोई काम कर पाते है | operating system को ज्यादातर लोग OS कहते है और computer का सबसे मुख्य software होने के कारण इसे computer का दिल भी कहा जाता है |

Android, window, linux और Mac, यह सभी एक operating system है |

operating system ki aavashyakta (ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता )

operating system हमारे computer में सिर्फ software और hardware को जोड़ने काम ही नहीं करता है, बल्कि ये और भी बहुत कुछ  जरूरी काम करता है जैसे :-

1. Memory management (मेमोरी मैनेजमेंट) –

operating system हमारे computer में memory को manage करने का काम करता है | हमारे computer में primary और secondary, दो memory होती है | operating system इन दोनों memory की पूरी जानकारी रखता है कि किस memory में क्या चल रहा है और यही हमारे computer में इन दोनों memory को निर्देश देने का भी काम करता है |

operating system से ही हमारे computer की memory कार्य करती है |

2. Processor management (प्रोसेसर मैनेजमेंट) –

operating system हमारे computer में processor को भी manage करने का काम करता है | किस processor का computer में कहा इस्तेमाल होना है और कोन सा processor क्या काम करेगा, यह सब operating system ही निर्धारित करता है |

हमारे computer में किसी भी प्रोग्राम(program) को चलने के लिए processor की जरूरत पड़ती है | ऐसे में जब भी किसी program को processor की जरूरत पड़ती है तो operating system ही उस program को processor उपलब्ध कराने का काम करता है |

इन्हें भी पढ़ें :

3. Device management (डिवाइस मैनेजमेंट) –

device management भी किसी operating system का एक मुख्य कार्य होता है | हमारे computer में कई सारे device लगे होते है जिनका अलग-अलग काम होता है | कई सारे devices होने के कारण इन्हें manage भी करना पड़ता है |

operating system हमारे computer में इन सभी devices को manage करने का भी काम करता है | एक operating system ही यह निर्धारित करता है की कौन सा device कब और किस काम के लिए इस्तेमाल किया जाएगा |

4. File management (फाइल मैनेजमेंट) –

हम अपने computer में रोज कई सारी नयी file बनाते है और कई सारी फाइलों को delete भी कर देते है | लेकिन ये जो फाइलें हमारे द्वारा बनायी जाती है, ये सब computer की memory में किसी एक अलग जगह पर आ जाती है |

operating system हमारे computer में इन सभी फाइलों को manage करता है | यह हमारे computer में हर file को जगह भी देने का निर्णय करता है और ये decide करता है कि किस file को computer की memory में कहाँ रखना है |

5. Security management (सिक्युरिटी मैनेजमेंट) –

हम सब लोग अपने-अपने computer में अपने जरूरी data जैसे photo, video, files आदि को रखते है और इनको हर किसी से सुरक्षित रखने के लिए computer में password भी लगाते हैं |

operating system की वजह से ही हम अपने computer में password लगा पाते है और यही हमारे computer में password और अन्य security को manage करता है |

bit locker जैसे functions का इस्तेमाल भी हम operating system की वजह से ही कर पाते हैं |

Operating system ke prkaar (ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार)

दोस्तों दुनिया में technology के छेत्र में रोज नए आविष्कार किये जा रहे हैं और नए उपकरण बनाये जा रहे हैं | हर छेत्र में technology दुगनी रफ्तार से बढ़ रही है और इसी कारण operating system का प्रयोग भी बढ़ता जा रहा है |

operating system कई प्रकार के होते हैं जिनमे से कुछ नीचे दिए गए हैं :-

1. Batch operating system

2. Simple batch system

3. Distributed operating system

4. Time sharing operating system

5. Real time operating system

6. Network operating system

दोस्तों और भी कई प्रकार के operating system होते है और हर प्रकार के operating system के अपने कुछ खास features होते हैं | कुछ को ज्यादातर bank में इस्तेमाल किया जाता है और कुछ को normal लोग अपने personal computers में ज्यादा इस्तेमाल करते हैं |

Operating system ke fayde (ऑपरेटिंग सिस्टम के फायदे)

दोस्तों operating system के कई सारे फायदे होते हैं जैसे :-

1. operating system को चलाना बहुत आसान होता है और इसे बिलकुल आसानी से कम्प्यूटर में इस्तेमाल किया जा सकता है | इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि नए कम्प्यूटर उपयोक्ता कम्प्यूटर को आसानी से और जल्दी चलाना सीख जाते हैं |

2. एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर में data का आदान-प्रदान होने के लिए भी operating system का इस्तेमाल होता है | इसकी मदद से हम आसानी से अपने कम्प्यूटर का data किसी और के कम्प्यूटर के साथ share कर सकते हैं और किसी और के कम्प्यूटर से data को अपने कम्प्यूटर में ले सकते हैं |

कुछ सुन्दर लेख :

 3. हम अपने कम्प्यूटर में कई प्रकार का जरूरी data रखते हैं और ऐसे में इस data का सुरक्षित होना बहुत जरूरी होता है | operating system in hindi के कारण ही हमारे कम्प्यूटर में data सुरक्षित होता है | किसी भी operating system को बहुत सुरक्षित बनाया जाता है ताकि आपकी मर्जी के बिना कोई भी आपके data का उपयोग न कर सके |

4. हर कोई अपने कम्प्यूटर में कई अलग-अलग प्रकार के software या program को चलाता है | कई प्रकार के games को चलाया जाता है और कई सारे कार्यों को किया जाता है | लेकिन किसी भी software या game को हम बहुत आसानी से चला पाते हैं, ये सब एक operating system के कारण ही हो पाता है |

Pramukh operating system ke naam (प्रमुख ऑपरेटिंग सिस्टम के नाम)

वैसे तो इस दुनिया में कई सारे operating system होते हैं लेकिन उनमे से कुछ को ही लोगो के बीच ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है | कुछ प्रमुख operating system के नाम नीचे दिए गए हैं :-

1. Windows

2. Android

3. Mac os

4. Linux

5. Ubuntu

6. iOS

ये प्रमुख operating system के नाम है | हर operating system के अलग अलग version हैं जैसे windows के window 7, window8, window 10 आदि और Android के lollypop, kitkat, pie, oreo, naugat आदि | इसी प्रकार बाकी operating system in hindi के भी अलग-अलग version आते हैं |

windows, mac os, linux आदि ये सभी desktop operating systems हैं और android, ios आदि सभी mobile operating systems हैं |

Operating system ka itihas (ऑपरेटिंग सिस्टम का इतिहास)

दोस्तों हमने operating system के बारे में ज्यादातर जानकारी जान ली है लेकिन शायद आपके मन में एक सवाल आ रहा होगा की आखिर operating system की शुरुवात कहा से हुई ? तो चलिए जानते हैं |

दोस्तों शुरुवात में computers में operating system नहीं हुआ करते थे और किसी भी program को चलाने के लिए पहले उस program के code को computer में include कराना पड़ता था, जरूरी hardware के साथ code को communicate कराना पड़ता था तब जाकर कही एक program run हो पाता था | इसके कारण कोई सरल programs भी काफी कठिन हो जाते थे |

इन्हें भी पढ़ें :

इसी समस्या से निपटने के लिए सन 1950 में पहले operating system को बनाया गया लेकिन ये भी एक बार में एक ही program को run कर पाता था |

धीमे धीमे operating system और अच्छे बनते गए और फिर सन 1960 में unix operating system को बनाया गया | इस operating system को पूरी तरह से c language में बनाया गया | इसे इस्तेमाल करना पहले से आसान था और यह तेज काम भी करता था |

इसके बाद unix के कई नए-नए version आते गए और फिर सन 1981 में microsoft corporation के द्वारा MS-DOS operating system को launch किया गया | इसे मुख्य रूप से IBM computers की जरूरत के हिसाब से बनाया गया था |

सन 1985 में पहली बार “windows” नाम का इस्तेमाल हुआ जब graphical user interface को बनाया गया और इसे MS-DOS के साथ जोड़ा गया |

Microsoft windows का बहुत ज्यादा famous होने का एक मुख्य कारण ये भी रहा है की 1985 के बाद ज्यादातर सभी softwares को windows operating system में चलने के हिसाब से ही बनाया जाने लगा |

Revision (संशोधन)

operating system in hindi किसी computer का एक मुख्य software होता है जो hardware और software को आपस में जोड़ने का काम करता है | window 7, window 8, window 10 ये सब एक प्रकार के operating system ही हैं |

हम अपने computer में किसी भी software को install सिर्फ एक operating system की वजह से ही कर पाते हैं | operating system को computer में सबसे पहले इनस्टॉल किया जाता है |

हमारे computer में operating system in hindi की कई प्रकार से आवश्यकता होती है जैसे memory management के लिए, processor management के लिए, device management के लिए, file management के लिए और security management के लिए | और भी कई प्रकार से हमारे computer को operating system की आवश्यकता पड़ती है |

इन्हें भी पढ़ें :

दिन प्रतिदिन दुगनी रफ़्तार से technology के बढ़ने के कारण operating system की जरूरत भी बढती जा रही है | वैसे तो दुनिया में कई प्रकार के operating system होते है लेकिन कुछ प्रमुख operating system in hindi के नाम इस प्रकार हैं जैसे batch operating system, distributed operating system, real time operating system, network operating system आदि |

किसी operating system के कई सारे फायदे भी होते हैं जैसे इसे इस्तेमाल करना बहुत आसान होता है, एक computer से दूसरे computer में data का आदान प्रदान बहुत आसानी से हो पाता है, operating system बहुत सुरक्षित होता है और किसी भी software या game को बहुत आसानी से चला पाता है |

windows, android, mac os, linux, iOS और ubuntu ये सब कुछ प्रमुख operating system के नाम हैं | हर operating system में कई सारे अलग अलग version आते हैं |

शुरुवात में computer में operating system नहीं हुआ करते थे और इसके कारण किसी program को चलाना बहुत कठिन हुआ करता था |

इसके बाद सन 1950 में पहला operating system बनाया गया जो की एक बार में एक ही program को run कर पाता था |

इसके बाद सन 1960 में unix operating system को बनाया गया | यह पूरी तरह से c language पर निर्धारित था और इसे इस्तेमाल करना भी पहले से बहुत आसान था |

सन 1981 में microsoft के द्वारा MS-DOS operating system को launch किया गया | सन 1985 में graphical user interface को बनाया गया और इसे MS-DOS के साथ जोड़ा गया | तभी से windows नाम का इस्तेमाल होने लगा |

आशा करता हूँ की आप सभी को operating system in hindiपर दी गयी हमारी ये जानकारी पसंद आई होगी और operating system के बारे में आप पूरी तरह से जान गए होंगे | हमारा आप से निवेदन है की आप इस लेख को facebook, whatsapp, instagram और twitter जैसे जो भी social media का इस्तेमाल करते हों, उन पर share करें ताकि यह जरूरी जानकारी और भी लोगों तक पहुँच सके |

gurujiathome.com क्या है

दोस्तों gurujiathome.com एक online learning plateform है जहा कम्प्यूटर और कई अलग-अलग विषयों पर सरल हिंदी भाषा में जानकारी दी जाती है | इस वेबसाइट के साथ जुड़ने का सबसे बड़ा फायदा यह है की यहाँ किसी भी बिषय पर पूरे विस्तार में जानकारी दी जाती है और इस बात का ख्याल रखा जाता है की कोई point चूक ना जाए |

gurujiathome.com के साथ जुड़े रहें |

अपना ख्याल रखें, सुरक्षित रहें

धन्यबाद !

2 Comments

Leave a Response